सिख धर्म के प्रथम गुरु एवं संस्थापक गुरु नानक देव जी की पुण्यतिथि पर नमन : अजय सोनकर

Breaking News Uttrakhand

देहरादून। वरिष्ठ भाजपा नेता, प्रसिद्ध जनसेवी एवँ वार्ड संख्या 18 इंदिरा कॉलोनी, चुक्खुवाला के पूर्व नगर निगम पार्षद अजय सोनकर उर्फ घोंचू भाई ने सिख धर्म के संस्थापक और सिखों के पहले गुरु, गुरु नानक देव जी की पुण्यतिथि पर उन्हें नमन किया।

पूर्व नगर निगम पार्षद अजय सोनकर ने नमन करते हुए कहा- “संपूर्ण मानव जाति को दया, समानता व मानवता की सीख देने वाले, सिख धर्म के प्रथम गुरु एवं संस्थापक गुरु नानक देव जी की पुण्यतिथि पर कोटिश: नमन।”

प्रसिद्ध जनसेवी अजय सोनकर ने कहा कि सिख धर्म के संस्थापक और सिखों के पहले गुरु, गुरु नानक देव जी की पुण्यतिथि हर साल 22 सितंबर को मनाई जाती है। इस दिन प्रत्येक गुरुद्वारों में गुरुवाणी का पाठ किया जाता है और जगह-जगह पर लंगर का आयोजन किया जाता है।

उन्होंने कहा कि गुरु नानक देव जी समाज में बढ़ रही कुरीतियों को देखकर आहत थे और उनको बदलना चाहते थे। वह एक दार्शनिक थे जिसके कारण उन्होंने यह भांप लिया था कि यह कुरीतियां न केवल समाज को खोखला कर रही हैं बल्कि इससे मनुष्य पतन ओर जा रहा है। इसलिए बाबा नानक ने समाज को नई दिशा दिखाने का कार्य किया।

Leave a Reply