चीन के साथ हुई झड़प को लेकर भारतीय सेना ने दिया बड़ा बयान

News Room

नई दिल्ली। भारतीय सेना ने उन तमाम अटकलों पर विराम लगा दिया है जिसमें कहा जा रहा था कि लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी के साथ हिंसक झड़प में कुछ भारतीय सैनिक गुम भी हुए हैं। भारतीय सेना की तरफ से साफ कर दिया है कि 15 जून की रात को चीनी सैनिकों के सात गलवान घाटी में हुई झड़प में कोई भी भारतीय सैनिक गुम नहीं हुआ है।

बुधवार को अमेरिकी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स में एक खबर छपी थी जिसमें दावा किया गया था कि चीन की सेना ने कई भारतीय सैनिकों को बंदी बना लिया है। अमेरिकी अखबार ने सूत्रों के हवाले से इस खबर को लिखा था। हालांकि भारतीय सेना ने अमेरिकी अखबार के दावे को नकारते हुए साफ कर दिया है कि चीनी सैनिकों के साथ हुई झड़प में कोई भी भारतीय सैनिक गायब नहीं हुआ है।

पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में सामान्य स्थिति बहाल करने के उद्देश्य से लगातार तीसरे दिन बृहस्पतिवार को भारतीय और चीनी सेनाओं ने मेजर जनरल-स्तर की वार्ता की। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। गलवान घाटी में सोमवार की शाम भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प में 20 भारतीय सैन्यकर्मी शहीद हो गये थे।

इस झड़प में भारतीय सेना के लगभग 18 जवान गंभीर रूप से घायल हो गये थे। सूत्रों ने बताया कि गलवान घाटी के निकट दोनों पक्षों के बीच हुई वार्ता मंगलवार और बुधवार को बेनतीजा रही थी। मेजर जनरल स्तरीय बातचीत में गलवान घाटी से सैनिकों के पीछे हटने की प्रक्रिया को लागू करने पर चर्चा हुई थी।

Leave a Reply