आतंकियों के साथ कोरोना संक्रमितों की भारत में घुसपैठ करवा रहा पाकिस्तान

Breaking News National

नई दिल्ली। भारतीय सेना में कोरोनावायरस संक्रमण फैलाने के लिए पाकिस्तान बड़ी साजिश रच रहा है। खुफिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पाकिस्तान आतंकियों के साथ कोरोनावायरस संक्रमितों को भी भारत में घुसपैठ करवाने की ताक में है। इसी बीच, सेना ने अग्रिम चौकियों पर तैनात जवानाें को आदेश दिया है कि वह पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट (पीपीई) पहनकर ही मुठभेड़ में मारे गए आतंकियों के शवों को हाथ लगाएं। इसके लिए खासतौर पर शव उठाकर ठिकाने लगाते वक्त विशेष स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (एसओपी) का पालन करें।

सेना के लिए नई गाइडलाइंस जारी

नई गाइडलाइंस में कहा गया है कि सही तरीके से पीपीई पहनकर ही जवान किसी आतंकी का शव उठाएं। शरीर का कोई हिस्सा उसके संपर्क में नहीं आना चाहिए। शव दफनाते वक्त भी शव से संपर्क नहीं होना चाहिए। सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इससे जुड़े निर्देश सभी अग्रिम चौकियों पर जारी किए गए हैं।

घुसपैठ की ताक में बैठे इन आतंकियों के संक्रमित होने की अंदेशा

सेना के सूत्रों ने बताया कि सीमा पार से सुने गए संदेशों से पता चला है कि पाकिस्तान जानबूझकर पीओके में कोविड-19 के मरीजों को क्वारैंटाइन के लिए भेज रहा है। इन्हीं इलाकों में आतंकियों के ट्रेनिंग कैंप भी हैं। नियंत्रण रेखा के पास पीओके में मौजूद लॉन्च पैड्स पर भी काफी संख्या में आतंकी हैं। घुसपैठ की ताक में बैठे इन आतंकियों में से कई के कोरोनावायरस संक्रमित होने का पूरा अंदेशा है।

नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान कर रहा फायरिंग

सेना के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि नियंत्रण रेखा पर तैनात सैनिक अभी संक्रमण से सुरक्षित हैं। लेकिन, पीओके से संक्रमितों की घुसपैठ इन इलाकों में संक्रमण फैलने की वजह बन सकती है। इसलिए सेना कोई ढील नहीं बरतना चाहती। उल्लेखनीय है कि इन दिनों पाकिस्तान लगातार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर नियंत्रण रेखा पर फायरिंग कर रहा है। मार्च में पाकिस्तान ने 411 बार संघर्ष विराम तोड़ा था, जबकि इस महीने ऐसी 60 घटनाएं हो चुकी हैं।

कश्मीर के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे सेना प्रमुख

सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे गुरुवार को कश्मीर घाटी के दो दिन के दौरे पर पहुंचे। वैश्विक महामारी कोरोनावायरस संक्रमण के खिलाफ देश में जारी जंग के बीच सेना नियंत्रण रेखा पर लगातार पाकिस्तान की ओर से किए जा रहे संघर्ष विराम का मुंहतोड़ जवाब दे रही है। गर्मी शुरू होते ही आतंकियों की घुसपैठ के लिए लगातार गोलाबारी की जा रही है।

Leave a Reply