जरूरतमंदों को रोजाना 2 हजार खाने के पैकेट बांट रहे अमिताभ बच्चन

Breaking News Entertainment

मुंबई। बॉलिवुड के मेगास्टार अमिताभ बच्चन कोरोना वायरस के चलते 21 दिन के लॉकडाउन के बीच मुंबई शहर भर में जरूरतमंदों को दोपहर और रात का भोजन उपलब्ध कराने के लिए रोजाना दो हजार भोजन के पैकेट का बांट रहे हैं। इसके अलावा बिग बी ऑल इंडिया फिल्म एम्पलाई कंफेडेरशन से जुड़े दैनिक वेतन भोगी श्रमिकों के एक लाख परिवारों को महीने भर का राशन दे रहे हैं।

इन जगहों पर वितरित किया जा रहा है खाना

अमिताभ बच्चन ने समाज सेवा की यह बात अपने ब्लॉग के माध्यम से कही। उन्होंने कहा, ‘इस बीच, व्यक्तिगत मोर्चे पर शहर के विभिन्न स्थानों पर दोपहर के भोजन और रात के खाने के लिए (मेरे द्वारा) हर दिन दो हजार पैकेट दिए जा रहे हैं।’ उन्होंने उन स्थानों का भी पता बताया, जहां जरूरतमंदों को खाना दिया जा रहा है। उन्होंने कहा, ‘अधिकांश भोजन हाजी अली दरगाह, माहिम दरगाह, बाबुलनाथ मंदिर, बांद्रा में झुग्गी और शहर के आंतरिक हिस्सों में स्थित कुछ अन्य झुग्गियों में वितरित किया जा रहा है।’

Amitabh Bachchan@SrBachchan

T 3495 – I express my sincere gratitude to all #SupplyWarriors who are risking their lives every day to serve the nation. We salute your determination towards keeping #India connected amidst lockdown.#IndiaFightsCorona @PMOIndia @COVIDNewsByMIB @MIB_India @swachhbharat11.3K8:16 PM – Apr 8, 2020Twitter Ads info and privacy1,410 people are talking about this

परिवहन में आ रही समस्याएं
बिग बी ने लॉकडाउन के कारण आपूर्ति के लिए प्रयोग में लाए जाने वाले परिवहन में आने वाली समस्याओं पर प्रकाश डालते हुए कहा, ‘जितना हम करना चाहते हैं उतना कर पाना मुश्किल है। प्रक्रिया की अपनी समस्याएं हैं। लॉकडाउन में अब घर और रहने वाले क्षेत्रों से बाहर कदम रखना गैरकानूनी कर दिया गया है। इसलिए भले ही मैं बैगों को तैयार करने में सक्षम हूं, लेकिन परिवहन के कारण समस्याएं पैदा होती हैं।’ उन्होंने कहा, ‘एक सामान ले जाने वाला वाहन आवश्यक पैकेज के 50 से 60 बैग ले जा सकता है, इसलिए तीन हजार पैकेज को ले जाने के लिए अन्य वाहन की जरूरत होगी। समस्या वाहन की नहीं, उनके एक स्थान से दूसरे स्थान पर आने जाने की है।’

अमिताभ बच्चन की फिल्में
वर्कफ्रंट की बात करें तो अमिताभ बच्चन की पाइपलाइन में कई फिल्में हैं। वह अयान मुखर्जी की फिल्म ‘ब्रह्मास्त्र’, सूजीत सरकार की फिल्म ‘गुलाबो सिताबो’, रुमी जाफरी की फिल्म ‘चेहरे’ और नागराज मंजुले की फिल्म ‘झुंड’ में नजर आएंगे।

Leave a Reply