रक्षाबंधन के अवसर पर ज्ञान कलश सोशल वेलफेयर एंड एजुकेशनल सोसाइटी ने आयोजित की प्रतियोगिता

Breaking News Uttrakhand

देहरादून। मंगलवार दिनांक 9 अगस्त 2022 को ज्ञान कलश सोशल वेलफेयर एंड एजुकेशनल सोसाइटी द्वारा रिवरेन पब्लिक स्कूल में राखी बनाने की प्रतियोगिता आयोजित की गई। विद्यालय के सभी बच्चों ने इस प्रतियोगिता में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया।

इस दौरान सोसाइटी के अध्यक्ष अभिनव कपूर ने रक्षा बंधन का महत्व बताते हुए कहा कि रक्षा बंधन भाई बहन के प्रेम का त्योहार है। यह प्रत्येक वर्ष सावन मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है। इस दिन बहन सुबह ही स्नान कर तैयार हो जाती है। इसके बाद वह थाली में आरती का सामान सजाकर भाई की आरती उतारती है और भाई के माथे पर तिलक लगाकर उसके दाहिने हाथ की कलाई पर राखी बांधती है। साथ ही भाई का मुंह मिठाईयों से भर देती है। भाई भी बदले में बहन को रूपये एवं अन्य उपहार देता है। भाई को राखी बांधते समय बहन की यह कामना रहती है कि मेरा भाई सुखी और ऐश्वर्यशाली बने और भाई बहन की रक्षा करने का वचन लेता है।

उन्होंने कहा कि प्राचीन समय मे राजपूत जब लड़ाई पर जाते थे तब महिलाएं उनको माथे पर कुमकुम तिलक लगाने के साथ साथ हाथ में रेशमी धागा भी बांधती थी। इस विश्वास के साथ कि यह धागा उन्हे विजयश्री के साथ वापस ले आएगा। अध्यक्ष ने बताया कि संस्था आजादी का अमृत महोत्सव के उपलक्ष में 13 अगस्त को पेंटिंग प्रतियोगिता व निबंध लेखन प्रतियोगिता भी कराने जा रही है।

इस अवसर पर रिवरेन पब्लिक स्कूल की प्रधानाचार्य श्रीमती मंजू शर्मा ने बच्चों का हौसला बढ़ाया। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के आयोजन से विद्यार्थियों की प्रतिभा में निखार आता है, साथ ही छात्रों को नई-नई चीजें सीखने को मिलती हैं। उन्होंने कहा कि स्कूली बच्चों के भीतर आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए इस प्रकार की प्रतियोगिताओं का होना अति आवश्यक एवं महत्वपूर्ण है।

इस मौके पर विद्यालय के प्रबंधक मयंक भूषण शर्मा, संस्था के कोषाध्यक्ष आदित्य शर्मा, प्रचार प्रमुख विजय राज ओझा व सचिव रितिका कपूर आदि मौजूद थे।

Leave a Reply