लोकतांत्रिक संस्थाओं को कमजोर और आर्थिक विकास को धीमा करता है भ्रष्टाचार : अजय सोनकर

Breaking News News Room Uttrakhand

देहरादून। वरिष्ठ भाजपा नेता, प्रसिद्ध जनसेवी एवं वार्ड संख्या 18 इंदिरा कॉलोनी, चुक्खुवाला के पूर्व नगर निगम पार्षद अजय सोनकर उर्फ घोंचू भाई ने ‘अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार निरोध दिवस’ के अवसर पर समस्त देशवासियों को संदेश दिया है।

अन्तर्राष्ट्रीय भ्रष्टाचार निरोध दिवस के अवसर पर जारी अपने संदेश में जनसेवी अजय सोनकर ने कहा कि किसी राष्ट्र की प्रगति में भ्रष्टाचार सबसे बड़ा बाधक है। आइए आज ‘अन्तर्राष्ट्रीय भ्रष्टाचार निरोध दिवस’ पर हम सब मिलकर ये संकल्प लें कि ना ही हम भ्रष्टाचार करेंगे और ना ही किसी को भ्रष्टाचार करने देंगे।

जनसेवी अजय सोनकर ने कहा कि प्रति वर्ष 9 दिसंबर को पूरे विश्व में ‘अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार निरोध दिवस (International Anti Corruption Day)’ मनाया जाता है। इस दिवस को मनाए जाने का प्रमुख उद्देश्य भ्रष्टाचार के खिलाफ जागरूकता फैलाते हुए सरकारी, निजी एवं गैर सरकारी संस्थाओं समेत नागरिक समाज को भ्रष्टाचार उन्मूलन हेतु संयुक्त रुप से कार्यवाही करने हेतु प्रेरित करना है।

उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र महासभा ने वर्ष 2003 में यूनाइटेड नेशंस कन्वेंशन अगेंस्ट करप्शन प्रस्ताव पारित किया एवं इसी के साथ अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार निरोध दिवस को मनाए जाने की घोषणा की थी। कोविड-19 महामारी के कारण ध्वस्त हुई वैश्विक अर्थव्यवस्था एवं आपूर्ति प्रणाली के पुनरुद्धार के मद्देनजर भ्रष्टाचार पर तुरंत कार्रवाई करने की आवश्यकता को देखते हुए इस वर्ष अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार निरोध दिवस की थीम ‘रिकवरी विद इंटीग्रिटी रखी गई है।

पूर्व पार्षद अजय सोनकर ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक भ्रष्टाचार एक गंभीर अपराध है जो देश के सामाजिक और आर्थिक विकास को कमजोर करता है। आज के समय में भ्रष्टाचार से कोई देश, क्षेत्र या समुदाय बचा नहीं है। यह दुनिया के सभी हिस्सों में फैल गया है चाहे वो राजनीतिक, सामाजिक या आर्थिक हो। इसके साथ ही यह लोकतांत्रिक संस्थाओं को भी कमजोर करता है, सरकारी अस्थिरता में योगदान देता है और आर्थिक विकास को भी धीमा करता है।

Leave a Reply