क्लीन चिट

Dil se News Room Poems Uttrakhand

उदास निगाहें पथरा गयी
उस माँ की,
जिसकी मासूम और नाबालिग बेटी की

अस्मत पे हाथ डाला था जिस आदमी ने ,
उसको क्लीन चिट दे दी गयी
सरकार की तरफ से ।
अब कोई उम्मीद नहीं न्याय की ,
घुट घुट कर जियेंगी माँ बेटी
जिंदगी भर,
दिल पर रखे पहाड़ सा ये बोझ।

Leave a Reply