५९वाँ सावन

Dil se

उनसठवाँ सावन शुरू हो गया, जीवन का इतना लंबा सफ़र तय कर लिया मैने, ओह ईश्वर इतना लंबा सफ़र!! यकीन नहीं हो रहा है1

आज यादों के सरोवर में डुबकी लगाने का मन कर रहा है, यादों के झरोखों से पीछे मुड़ कर देखने की इच्छा हो रही है,
याद आ रहा है बचपन का वो समय जब बेफ़िक्रे होकर कहीं भी चले जाते थे, खेलते थे, कोई रोक टोक नहीं थी, स्कूल कालेज के वो दिन जब सारा वक़्त सजने सवरने में बीत जाता था, ऐसे ही अनगिनत खट्टी मीठी यादों का जखीरा, एक एक करके परते खुल रही हैं, कभी अच्छा लग रहा है, कभी बुरा,

संघर्ष के वो २२ वर्ष जिसने मुझको कर्मयोगिनी बना दिया, १८ घंटे लगातार कार्य करना, २ घंटे पढ़ाई और फिर चार घंटे सोना यही दिन चर्या थी मेरी. उफ़ कैसे दिन थे वो? संपन्न परिवार से होने के बावजूद भी मैने अपने आपको एक मजदूर बना दिया था, किसी की एक ग़लती से मेरी जीवन की धारा बदल गयी थी, उसका प्रयशचित जो करना था मुझे1

मैने किसी का सहारा नहीं लिया, ना ही किसी का अहसान, अपनी कर्म भूमि का खुद ही चुनाव कर लिया था मैने क्यों ना करती कर्म का उद्देश्य सामने था, जीने का मक़सद ही वही था1 मैने अगर कुछ साथ लिया था तो वो था माता पिता का आशीर्वाद बस और कुछ नहीं था मेरे पास1

मेरे संघर्ष के २२ साल ख़त्म होते ही मुझे मेरे कर्म का, मेरी तपस्या का बहुत ही मीठा फल मुझे प्राप्त हुआ, मेरी बेटी ने एम सी ए की परीक्षा दी और बोली मेरी जॉब विदेश में लग गई है मुझे जाना है, मानो मेरे संघर्ष कर के दिन ख़तम हुए, खुुशी भी हुई और सहम भी गयी एक अंजाने भय से, लेकिन बेटी अपने जॉब में चली गई उसके बाद मैने आज तक पीछे मुड़ कर नहीं देखा की दुख क्या होता है,

आज सुबह जब बच्चे केक टेबल पे सजाए हुए मेरा इंतज़ार कर रहे थे तो चौंक गयी ये क्या आज मेरा जन्मदिवस है, कितने वर्ष की हो गई में आज ?? हिसाब लगाया तो पता चला की ५९वा सावन शुरू हो गया ओह मेरे ईश्वर लेकिन अब क्या फिर एक प्रश्न सामने क्या ख़ुश होना चाहिए ये तो उम्र का एक वर्ष और कम हो गया,

फिर सोचा कोई बात नहीं अब जितना भी वक़्त है मेरे पास क्यों ना इसको किसी ऐसे काम में लगाया जाए जिससे मन भीखुश और दूसरे भी खुश, बाकी अपनी वो तमन्ना पूरी कर लेती हूँ जो पहले नहीं कर पाई, मुझे घूमने का शौक है, लिखने -पढ़ने का शौक है, थोडी बहुत स्कूल के ग़रीब बच्चों की भी मदद करती आई हूँ उसी कार्य को आगे बढ़ा लेती हूँ. बस वक़्त निकल जाएगा 1

Leave a Reply