भतीजे ने चाची को धारदार हथियार से काट डाला, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान

Breaking News News Room Uttrakhand

रांची। झारखंड में डायन बताकर एक और महिला की हत्या कर दी गई। महिला की हत्या करने वाला कोई और नहीं बल्कि उसका ही भतीजा था। भतीजे को चाची के डायन होने पर शक था जिसे लेकर हर रोज झगड़ा होते रहता था। मामला रांची जिले के तमाड़ क्षेत्र अंतर्गत बारेडीह गांव का है जहां एक 55 वर्षीय महिला को डायन करार देकर उसके अपने ही भतीजे ने धारदार हथियार से काट डाला। पुलिस ने आरोपी भतीजे को गिरफ्तार कर लिया है।

ये थी महिला की हत्या की वजह 

मंगलवार को तमाड़ थाना क्षेत्र अंतर्गत बारेडीह गांव में हुई वारदात के बारे में बताया गया कि पूरन स्वांसी की 55 वषीर्या पत्नी सरला देवी सुबह अपने खेत में गोबर फेंकने के लिए गई थी, तो वहां घात लगाये बैठे उसके भतीजे जयदेव स्वांसी ने धारदार हथियार से उसपर हमला कर दिया। मौके पर ही महिला ने दम तोड़ दिया। महिला के पति पूरन स्वांसी उसे बचाने के लिए आगे आये तो भतीजे ने उनपर भी हमला किया। उन्होंने खुद को बचाते हुए शोर मचाया। वारदात की जानकारी मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी भतीजे को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि पुलिस का कहना है कि हत्या की वजह डायन अंधविश्वास के बजाय आपसी विवाद हो सकता है। बुंडू डीएसपी अजय कुमार ने बताया कि पुलिस की जांच में यह बात भी सामने आई है कि दोनों परिवारों के बीच अक्सर लड़ाई झगड़ा हुआ करता था।

झारखंड में डायन हत्या और प्रताड़ना की घटनाएं थम नहीं रही

इसके पहले बीते चार सितंबर को रांची जिले के ही सोनाहातू में ग्रामीणों ने तीन महिलाओं को डायन बताते हुए पीट-पीटकर मार डाला था। 24 सितंबर को दुमका जिले में तीन महिलाओं सहित चार लोगों को इसी तरह के संदेह में बुरी तरह पीटा गया था और उन्हें मल-मूत्र पीने को मजबूर किया गया था। इधर दुमका में बीते शनिवार को तीन महिलाओं सहित चार लोगों को मल-मूत्र पिलाने के मामले में सभी छह आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

Leave a Reply