पूजा-पाठ के दौरान इन बातों का रखें विशेष ध्यान, वरना हो सकता है बुरा असर

National News Room

Vastu Tips: अपने सपनों को पूरा करने के लिए हर एक इंसान दिन-रात कड़ी मेहनत करके पैसा कमाता है। लेकिन कई बार ऐसा होता है कि मेहनत करने के बावजूद उस शख्स को  कुछ खास फल नहीं पाता। इतना ही नहीं कई बार बेवजह धन भी खर्च हो जाता है। वहीं कुछ लोग ऐसे होते हैं जो जाने अनजाने में कई बार ऐसी चीजें कर देते हैं जिसके प्रभाव के बारे में बाद में पता चलता है।

हालांकि वास्तु में कई ऐसी चीजें बताई गई हैं जिसे करने की मनाही होती है। अगर वास्तु से जुडी हुई इन छोटी-छोटी बातों को ध्यान में रखा जाए तो आप जीवन में सुख-समृद्धि और तरक्की प्राप्त कर सकते हैं। ऐसे में आइए जानते हैं वास्तु में किन कामों को करना वर्जित माना जाता है। 

न करें ये वर्जित काम

  1. शिवजी, गणेश जी और भैरव जी को भूलकर भी तुलसी का भोग न लगाएं। 
  2. मां दुर्गा को कभी भी दूर्वा नहीं चढ़ानी चाहिए। यह विशेष रूप से गणेश जी को अर्पित की जाती है। 
  3. रविवार और एकादशी के दिन तुलसी के पत्ते नहीं तोड़ने चाहिए। मान्यताओं के अनुसार, इन दिनों तुलसी के पत्ते तोड़ने पर पूजा का फल नहीं मिलता है। 
  4. कभी भी मंदिर से वापस जाते समय घंटा नही बजाना चाहिए। 
  5. केतकी का फूल शिवलिंग पर अर्पित नहीं करना चाहिए। 
  6. प्लास्टिक की बोतल में या किसी अपवित्र बर्तन में गंगाजल नहीं रखना चाहिए। गंगाजल तांबे के बर्तन में रखना शुभ माना जाता हैं। 
  7. चंदन सफेद रंग का होता है इसलिए सुहागिन महिलाओं को कभी भी चंदन का तिलक नहीं करना चाहिए। 
  8. भूलकर भी शिवजी को कुमकुम या सिंदूर नहीं चढ़ाना चाहिए। भगवान शिव को हल्दी भी नहीं चढ़ानी चाहिए क्योंकि भगवान शिव संहारक के रूप में जाने जाते हैं।
  9. वास्तु में हल्की सी भी टूटी मूर्तियों को घर में रखना अपशकुन माना जाता है। 
  10. वास्तु के अनुसार, जिस मूर्ति की आंखें बंद हो उसे घर में कभी न लाएं। 
  11. वास्तु कहता है कि शाम के समय किसी से पैसे ना तो उधार लेने चाहिए और ना किसी को पैसे उधार देने चाहिए। ऐसा करने से आप पर कर्जा बढ़ता है। 

डिस्क्लेमर – ये आर्टिकल जन सामान्य सूचनाओं और लोकोक्तियों पर आधारित है। हम इसकी सत्यता की पुष्टि नहीं करते।

स्रोत- डब्ल्यू टी

Leave a Reply