देवभूमि में तेजी से बढ़ रहे अपराधों की वजह से खुद को असुरक्षित महसूस कर रहीं उत्तराखंड की बहन-बेटियां : भावना पांडे

Breaking News News Room Uttrakhand

देहरादून। उत्तराखंड की बेटी, वरिष्ठ राज्य आंदोलनकारी, प्रसिद्ध जनसेवी एवँ जनता कैबिनेट पार्टी (जेसीपी) की केंद्रीय अध्यक्ष भावना पांडे ने दिवंगत अंकिता भंडारी को न्याय दिलवाने के लिए एक बार फिर आवाज़ उठाई है।

वरिष्ठ राज्य आंदोलनकारी भावना पांडे ने कहा कि देवभूमि की बेटी दिवंगत अंकिता भंडारी को न्याय दिलवाने के लिए आवाज़ उठाती रहूंगी। इसके साथ ही अंकिता के परिजनों की आर्थिक मदद भी करूंगी। उन्होंने कहा कि जब तक जीवित हूँ पीड़ित परिवार की सहायता करती रहूंगी और यदि उन्हें आवश्यकता हुई तो उनको दो कमरों का घर बनाकर भी दूँगी।

जेसीपी अध्यक्ष भावना पांडे ने उत्तराखंड सरकार और सरकारी तंत्र पर निशाना साधते हुए कहा कि देवभूमि में तेजी से बढ़ रहे अपराधों की वजह से आज उत्तराखंड की बहन-बेटियां खुद को असुरक्षित महसूस कर रहीं हैं। अब तक कईं लड़कियां प्रदेश से गायब हो चुकी हैं। बाहरी राज्यों से आये लोगों की वजह से प्रदेश में क्राइम ग्राम बढ़ रहा है। वहीं सरकार और पुलिस प्रशासन तमाशबीन बने हुए हैं।

जनसेवी भावना पांडे ने रिसॉर्ट पर बुलडोजर चलाये जाने की कार्रवाई पर भी सवाल खड़े किये हैं। उन्होंने संदेह जताते हुए कहा कि देर रात्रि में रिसॉर्ट पर बुलडोजर चलाकर सबूतों को नष्ट करने का कार्य किया गया है, इससे जांच में भी व्यवधान उत्पन्न होगा। उन्होंने एसआईटी की जांच पर सवाल उठाते हुए कहा कि ऐसी कईं जांच शुरू तो की जाती हैं लेकिन वे जल्द ही ठंडे बस्ते में चली जाती हैं। उन्होंने कहा कि यदि इस मामले में सीबीआई से जांच करवाई जाए तो कईं सफेदपोश लोगों के चेहरे सामने आएंगे। इसलिए सरकार सीबीआई जांच से बच रही है। उन्होंने अपनी मांग को दोहराते हुए कहा कि इस हत्याकांड की अवश्य ही सीबीआई जांच होनी चाहिए।

देवभूमि की बेटी भावना पांडे ने कहा कि बाहरी राज्यों से आने वाले युवा उत्तराखंड में आकर हुड़दंग मचाते हैं और यहाँ आपराधिक वारदातों को अंजाम देते हैं। उन्होंने कहा कि बस बहुत हुआ ये सब बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, हम उत्तराखंडी देवभूमि को और शर्मसार नहीं होने देंगे। उन्होंने सरकार से मांग करते हुए कहा कि उत्तराखंड में आकर उत्पात मचाने वाले लोगों के खिलाफ कठोर कदम उठाए जाएं।

Leave a Reply