आरटीआई के बदले रिश्वत मांगने वाले बाबू को किया निलंबित

National News Room

लखनऊ। सूचना का अधिकार कानून (आरटीआई) के तहत सूचना देने के लिए 5 हजार रुपये मांगने वाले बाबू देशराज को एलडीए ने निलंबित कर दिया। उपाध्यक्ष प्रभु एन सिंह ने जांच और विभागीय कार्यवाही के आदेश दिए हैं। दोषी पाए जाने पर बाबू को बर्खास्त किया जाएगा। इस बीच एंटी करप्शन ब्यूरो टीम की तहरीर पर गोमतीनगर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर बुधवार रात आरोपित को जेल भेज दिया।

एलडीए के नियोजन विभाग में तैनात बाबू देशराज पर मानचित्र देने के लिए पांच हजार रुपये रिश्वत मांगने का आरोप है। आरटीआई एक्टिविस्ट अंकुर की शिकायत पर एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने बाबू को रंगे हाथ पकड़ा था। जानकारी पर एलडीए वीसी ने रिपोर्ट तलब करने के साथ ही विभागीय कार्यवाही के आदेश दे दिए हैं।

वहीं एलडीए कर्मचारी संघ ने बाबू के खिलाफ हुई कार्रवाई पर सवाल उठाया है। अध्यक्ष शिव प्रताप सिंह के मुताबिक आरटीआई एक्टिविस्ट पर फर्जी तरीके से फंसाने का आरोप लगाते हुए निष्पक्ष जांच के बाद कार्रवाई की मांग की है।

Leave a Reply