Breaking News Uttrakhand

उत्तराखंड में अभी शुरू नहीं होंगी पर्यटन और तीर्थाटन गतिविधियां, पढ़िये खबर

देहरादून। देशभर में लॉकडाउन 31 मई तक बढ़ा दिया गया है। केंद्र सरकार ने लॉकडाउन का चौथा चरण तय कर गाइडलाइन जारी कर दी है। गाइडलाइन के अनुसार, प्रदेश में पर्यटन और तीर्थाटन की गतिविधियां शुरू नहीं हो सकती हैं। प्रदेश सरकार ने ग्रीन जोन में पर्यटन गतिविधियां संचालित करने की अनुमति मांगी थी। वहीं, ग्रीन, ऑरेंज और रेड जोन तय करने का अधिकार मिलने से कोरोना रोकथाम में और फायदा मिलेगा। इसके साथ राज्य में बसों के संचालन की राह खुल गई है।

प्रदेश सरकार सर्विस सेक्टर के लिए कुछ राहत मिलने की उम्मीद कर रही थी। उत्तराखंड की आर्थिकी में धार्मिक पर्यटन बेहद महत्वपूर्ण है। प्रदेश के लोगों के लिए चारधाम यात्रा शुरू करने पर भी विचार हो रहा था। अगर केंद्र सरकार धार्मिक गतिविधियों और स्थलों को खोलने की अनुमति प्रदान करती तो राज्य को बड़ी राहत मिल सकती थी।

लेकिन केंद्र ने 31 मई तक रोक को बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। इससे राज्य को झटका लगा है। हालांकि सरकार को अब ग्रीन, आरेंज और रेड जोन तय करने का अधिकार मिलने से कोरोना रोकथाम में मदद मिलेगी। केंद्र की गाइडलाइन के अनुसार ही यह जोन तय होंगे। राज्य सरकार बंद पड़ी परिवहन सेवाओं को दोबारा शुरू कर जनता को राहत दे सकती है। इससे प्राइवेट ट्रांसपोर्ट संचालकों को भी रोजगार मिल सकता है। हालांकि सोशल डिस्टेंसिंग के कड़े मानकों के तहत ही इसको संचालित किया जा सकता है।

इसके अलावा सरकार दुकानों को खोलने का समय बढ़ाकर छोटे व्यापारियों को राहत दे सकती है। केंद्र सरकार ने रात सात बजे से अगली सुबह सात बजे तक ही पूर्ण लॉकडाउन रखने के निर्देश दिए हैं। ऐसे में दुकानों के खुलने के समय को सरकार बढ़ा सकती है।

केंद्र सरकार की ओर से लॉकडाउन के चौथे चरण के लिए गाइडलाइन मिल गई है। इसका पूरी तरह से अनुपालन होगा। पर्यटन गतिविधियां अभी शुरू नहीं हो सकतीं, लेकिन जोन तय करने का अधिकार मिलने से संक्रमण रोकथाम में और फायदा मिलेगा। बसों के संचालन को लेकर भी सरकार अपने स्तर से विचार करेगी।
– उत्पल कुमार सिंह, मुख्य सचिव

Leave a Reply