Breaking News National

सीबीएसई ने क्लास 1 से लेकर 12वीं तक के स्टूडेंट्स के लिए जरूरी जारी की सूचना

नई दिल्ली। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने क्लास 1 से लेकर 12वीं तक, सभी स्टूडेंट्स के लिए जरूरी सूचना जारी की है। ये सूचना खास तौर पर सभी मान्यता प्राप्त स्कूलों के लिए है। लेकिन इसका सीधा असर स्टूडेंट्स पर होगा। बोर्ड ने बुधवार, 1 अप्रैल 2020 को एक विज्ञप्ति जारी की है, जिसमें क्लास 1 से 8, क्लास 9 और 11, क्लास 10 और 12 के स्टूडेंट्स के लिए अलग-अलग जानकारी दी गई है। यहां बता रहे हैं कि सीबीएसई ने विज्ञप्ति में क्या लिखा है –

कोरोनावायरस के कारण हुए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन हम सभी के लिए एक असामान्य परिस्थिति है। ऐसे में बोर्ड के पास कई लोगों के सवाल आ रहे थे कि इसमें बच्चों के भविष्य, उनकी परीक्षाओं और अगले सत्र का क्या होगा। तो बोर्ड सभी मान्यता प्राप्त स्कूलों को सलाह / जानकारी देता है कि वे नीचे बताई गई बातों का अनुसरण करें –

क्लास 1 से 8 के लिए – देश के सभी सीबीएसई स्कूलों को सलाह दी जाती है कि अगर उन्होंने क्लास 1 से 8 तक सभी विषयों की परीक्षा का संचालन पूरा नहीं किया है, तो स्टूडेंट्स को बिना परीक्षा ही अगली कक्षा में प्रमोट कर दें। एनसीईआरटी के साथ मश्वरा करने के बाद ये एडवायजरी जारी की जा रही है।

क्लास 9 व 11 के लिए – बोर्ड को जानकारी मिली है कि कई स्कूलों ने क्लास 9 व 11 की वार्षिक परीक्षाएं पूरी कर ली हैं। लेकिन कई स्कूल ऐसे भी हैं जहां कुछ परीक्षाएं बची हैं। ऐसे सभी स्कूलों को सलाह दी जाती है कि वे 9वीं और 11वीं दोनों के स्टूडेंट्स को स्कूल में अब तक हुए असेसमेंट्स, प्रोजेक्ट वर्क, पीरियॉडिक टेस्ट, टर्म एग्जाम्स, आदि के आधार पर अगली कक्षा में प्रमोट करे। अगर कोई स्टूडेंट इन आधारों पर क्वालिफाई नहीं करता है, तो स्कूल उसे इस खाली समय का सदुपयोग करने के लिए कह सकता है। फिर स्कूल आधारित परीक्षा (ऑनलाइन या ऑफलाइन मोड पर) लेकर उसे प्रमोशन दे सकता है।

क्लास 10 और 12 के लिए – बोर्ड पहले ही इस संबंध में सूचना जारी कर चुका है। 19 से 31 मार्च तक 10वीं और 12वीं की जो परीक्षाएं होनी थीं, उन्हें स्थगित किया जा चुका है। ये परीक्षाएं फिर कब होंगी, इस संबंध में अभी के हालात में फैसला ले पाना मुश्किल है। इसलिए हालात की समीक्षा के बाद बची परीक्षाओं के संचालन के लिए नया शेड्यूल जारी किया जाएगा। हालांकि बोर्ड स्टूडेंट्स को परीक्षा के लिए 10 दिन का समय जरूर देगा। यानी नोटिस / शेड्यूल जारी होने के 10 दिनों के बाद परीक्षा शुरू होगी।

सिर्फ 29 मुख्य विषय की होगी परीक्षा- एचआरडी मिनिस्टर ने यह स्पष्ट कर दिया है कि सीबीएसई सिर्फ 29 मुख्य विषयों की परीक्षा आयोजित करेगा। इन विषयों में उत्तीर्ण होना अगली कक्षा में जाने और विश्वविद्यालय में दाखिले के लिये जरूरी है। बाकी विषयों की परीक्षा आयोजित नहीं की जाएगी।

विदेश में बाकी परीक्षा रद्द- सीबीएसई ने यह साफ कर दिया है कि विदेश में 10वीं और 12वीं क्लास की जो परीक्षाएं लंबित रह गई हैं, अब उन परीक्षाओं का आयोजन नहीं किया जाएगा। इस बारे में सीबीएसई ने कहा है कि विदेश से कॉपियों को मूल्यांकन के लिए लाने में मुश्किलें हो रही हैं। इसी वजह से इन परीक्षाओं को रद्द करने का फैसला लिया गया है।

Leave a Reply