Entertainment News Room

दूरदर्शन पर रामायण के प्रसारण को लेकर कलाकारों ने कही ये बात

मुंबई। 33 साल बाद रामानंद सागर की ‘रामायण’ का प्रसारण दूरदर्शन पर शुरू हो गया है। शनिवार सुबह 9 बजे इसका पहला एपिसोड दिखाया गया। हर दिन सुबह और रात के 9 बजे शो के दो एपिसोड दिखाए जाएंगे। ‘रामायण’ अपनी लोकप्रियता के कारण पूरे देश में बड़ा टॉकिंग प्वॉइंट बनी हुई है। लोगों की रुचि को देखते हुए देश के चर्चित अखबार ने ‘रामायण’ की ओरिजिनल स्टारकास्ट से खास बात की।

नेगेटिविटी को निकाल फेंकेगी ‘रामायण’ : अरुण गोविल

भगवान राम का किरदार निभाने वाले अरुण गोविल कहते हैं- मेरे हिसाब से लोगों तक फिर से ‘रामायण’ की कहानी पहुंचाने का यह सबसे अच्छा वक्त है। क्योंकि लॉकडाउनकी वजह ज्यादातर सड़कें सूनी हैं। एक वक्त था जब इस रामकथा को देखने सड़कें सूनी हो जाती थीं। अब फिर ‘रामायण’ देखकर उनके वक्त का सदुपयोग हो जाएगा। फिलहाल पूरी दुनिया एक मुश्किल दौर से गुज़र रही है और ऐसे वक्त में हम भगवान को कैसे भूल सकते हैं, वही हैं जो हमारी रक्षा करेंगे।

शायद परमात्मा खुद फिर से लोगों तक रामायण पंहुचा रहे हैं ताकि वे लोगों को बता सकें की जो लीलाएं उन्होंने रची थीं, जिस तरह की जिंदगी उन्होंने जी थी उससे लोग अपने जीवन में सीखें। अगर कुछ नहीं सीखा होगा तो वे एक बार फिर से रामायण देखकर सीखें। इस वक्त हम सभी को पॉजिटिव रहने की बहुत ज़रूरत हैं।

मुझे उम्मीद है रामायण की कथा जो इतनी पवित्र है और पॉजिटिव से भरी है, वो लोगों को नेगेटिविटी से दूर रखने में मदद करेंगी। इससे काफी कुछ सीखने को भी मिलेगा, मनोरंजन भी होगा, वक्त भी बीत जाएगा और साथ ही साथ परमात्मा भी याद रहेंगे। सबसे ज्यादा खुशी मुझे इस बात की है कि मैं अपने पूरे परिवार के साथ बैठकर रामायण देख पाऊंगा। ये एक मौका भी है नई जनरेशन को पूरी रामायण दिखाने का। उम्मीद करता हूं कि वे इसे पसंद करेंगे।

इस बार बतौर ऑडियंस देखूंगी: दीपिका चिखलिया

शो में सीता का किरदार निभाने वाली दीपिका चिखलिया कहती हैं- जब ये सुना कि रामायण फिर से टीवी पर टेलीकास्ट होगा तो मैं काफी खुश हो गई। उस वक्त जब ऑरिजनल शो टेलीकास्ट हुआ था तब तो हम उसे शूटिंग करने की वजह से नहीं देख पाए। जितना भी देखा एडिटिंग टेबल पर ही देखा पर इस बार खुद को बतौर ऑडियंस देखूंगी। अपने बच्चे और पति के साथ मिलकर देखूंगी इससे बड़ी ख़ुशी की बात और क्या हो सकती है? करीबन 33 सालों बाद खुद को फिर से सीता के रूप में स्क्रीन पर देखने की एक्साइटमेंट तो हैं। पता नहीं खुद को देखकर कैसे रिएक्ट करूंगी।

मैं हमेशा से ही खुद को लेकर बहुत क्रिटिकल रही हूं, फिर चाहे वो एक्टिंग हो या फिर लुक्स। मैं कभी भी चैन से बैठकर खुद को देख नहीं पाती। मुझे हमेशा लगता है कि इसमें और सुधार की जरूरत है। नई जनरेशन के लिए ये एक लर्निंग के साथ ही उनके धैर्य की भी परीक्षा होगी क्योंकि 33 साल पहले जिस स्पीड के साथ यह बनाई गई थी वो बहुत ही अलग था।

ये कहानी उस वक्त के लोगों ने एक्सेप्ट की थी पर हो सकता है कि आज के दौर में लोगों को यह थोड़ी धीमी लगे या पोस्ट प्रोडक्शन वैल्यू कम लगे, लेकिन मुझे उम्मीद है कि इस सीरीज को नई जनरेशन भी एक्सेप्ट करेगी। सोशल मीडिया पर ऑडियंस अपनी प्रतिक्रिया जरूर देगी उसे पढ़ने के लिए काफी उत्सुक हूं।

रिपीट टेलीकास्ट की रिक्वेस्ट हमेशा आती थी: सुनील लहिरी

शो में लक्ष्मण की भूमिका करने वाले सुनील लहिरी कहते हैं- पिछले कुछ महीनों से लोगों की कई रिक्वेस्ट आ रही थीं ‘रामायण’ को फिर से टेलीकास्ट करने की। कई लोग मेरे सोशल मीडिया हैंडल पर रिक्वेस्ट डालते थे। यहां तक की मेरे पास ये भी खबर आई थी कि कुछ लोग रामायण को फ्रेंच भाषा में डब करके फ्रांस में दिखाए जाने की प्लानिंग कर रहे हैं। मेरे पास इस तरह के कोई भी मैसेज आते थे तो मैं रामानंद सागर के ग्रैंडसन शिव सागर को फॉरवर्ड कर देता था।

शिव से भी मैं अक्सर ‘रामायण’ को फिर से रिपीट टेलीकास्ट करने की बात किया करता था और आज फाइनली वो दिन आ ही गया। हमारे लिए तो ख़ुशी की बात है ही, लेकिन देश के लिए भी अच्छी बात हैं क्योंकि एक बार फिर से सभी एकजुट होकर घर में बैठेंगे। नई पीढ़ी भी इससे काफी कुछ शिक्षा लेगी। फिर से जब खुद को स्क्रीन पर देखूंगा तो पुरानी यादें भी ताजा हो जाएंगी। उस वक्त जब शूट करते थे तब हमें हमारा शो देखने का मौका नहीं मिलता था। कई बार घरवाले अलग से देखते थे, हम अलग से देखते थे। बहुत कम मौका मिलता था साथ में बैठकर देखने का पर अब सुकून से परिवार के साथ पूरी सीरीज देखूंगा।

रामभक्त हूं, फिर से रामायण देख मजा आएगा: अरविंद त्रिवेदी

शो में रावण का रोल कर लोकप्रिय हुए अरविंद त्रिवेदी ने कहा- मैं भगवान राम का बहुत बड़ा भक्त हूं और मेरे लिए ये बहुत ही खुशी की बात है। मैं 2 अप्रैल को रामनवमी मनाने के लिए अपने गांव गुजरात जाने वाला था, हालांकि लॉकडाउन की वजह से नहीं जा सकता, तो देखिए भगवान राम खुद आ गए मेरे घर। इतने सालों बाद खुद को फिर से स्क्रीन पर रावण के रूप में देखने को लेकर काफी उत्साहित हूं। उम्मीद करता हूं कि जो प्यार उस वक्त लोगों ने हमें दिया था, वो नई जनरेशन के लोगों से भी मिले।

Leave a Reply