National News Room

तेजी से समुद्री तटों की ओर बढ़ा ‘बुरेवी’ साइक्लोन, जारी हुआ अलर्ट

नयी दिल्ली। तमिलनाडु में चार दिसंबर को एक चक्रवात बुरेवी के आने की संभावना और प्रबल हो गई है। यह एक सप्ताह में राज्य में आने वाला दूसरा चक्रवात होगा। कुद्दालोर, चेन्नई, नागपटट्टनम, इन्नोर, कट्टूपल्ली, पद्दुचेरी, कराईकल में तेज तूफान की चेतावनी जारी की गई है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के चक्रवात चेतावनी प्रभाग ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में से उठा चक्रवाती तूफान बुरेवी तट की ओर बढ़ रहा है। इसके चक्रवाती तूफान के रूप में दो दिसंबर की शाम या रात को त्रिंकोमाली के निकट श्रीलंका तट से गुजरने का पूर्वानुमान है और इस दौरान 75 से 85 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलेगी।

चक्रवात चेतावनी प्रभाग ने कहा, ‘‘इसके बाद इसके पश्चिम की ओर बढ़ने और तीन दिसंबर की सुबह मन्नार की खाड़ी और निकटवर्ती कोमोरिन इलाके में पहुंचने की संभावना है। इसके बाद यह संभवत: पश्चिम-दक्षिणपश्चिम की ओर बढ़ेगा और चार दिसंबर की सुबह कन्याकुमारी और पम्बन के बीच दक्षिण तमिलनाडु के तट से गुजरेगा।’’ तमिलनाडु में पिछले सप्ताह अत्यंत गंभीर चक्रवाती तूफान ‘निवार’ आया था। तूफान बुरेवी के कन्याकुमारी के पास तट से टकराने की संभावना है।

आईएमडी ने संभावित तूफान के मद्देनजर तमिलनाडु और केरल के दक्षिणी इलाकों में ‘रेड-कलर कोडेड’ चेतावनी जारी की है और कहा है कि इन क्षेत्रों में भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है। इस दौरान मछुआरों को तटों के पास नहीं जाने की सलाह दी गयी है। मौसम विभाग की ओर से समुद्र में मछली पकड़ने गए मुछआरों को भी वापस लौटने की सलाह दी गई ।

Leave a Reply