बेरोजगार युवा व महिलाएं ही भाजपा का घमंड तोड़ेंगे: राज्य आंदोलनकारी भावना पांडे

Breaking News Uttrakhand

देहरादून। जनता कैबिनेट पार्टी की केंद्रीय अध्यक्ष भावना पांडे बीते काफी दिनों से उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में आंदोलन कर रहे बेरोजगार युवाओं के धरने व प्रदर्शन को समर्थन देती आ रही हैं। इसी क्रम में अब उन्होंने पीआरडी जवानों के समर्थन में उनकी मांगों को लेकर हुंकार भरी है।

गुरुवार को गाँधी पार्क पर एकत्र हुए पीआरडी जवानों के धरने को समर्थन देने पहुंची जेसीपी मुखिया एवँ राज्य आंदोलनकारी भावना पांडे का पीआरडी जवानों के द्वारा फूलमाला पहनाकर गर्मजोशी से स्वागत किया गया एवँ उन्हें सम्मानित किया गया।

इस दौरान पीआरडी जवानों की पीड़ा को व्यक्त करते हुए भावना पांडे ने कहा कि सरकार के द्वारा इन नौजवानों से काम तो खूब लिया जाता है लेकिन जब इनके हित व अधिकारों की बात की जाती है तो सरकार अपना पल्ला झाड़ लेती है।

राज्य आंदोलनकारी भावना पांडे ने बड़ा सवाल उठाते हुए कहा कि हमने इतनी यातनाएं सहकर क्या पृथक उत्तराखंड राज्य इसी दिन के लिए लिया था कि हमारी युवा पीढ़ी सड़कों पर भूखी-प्यासी रहकर आंदोलन करे और नेता लोग हेलीकॉप्टरों में घूमें व एसी कमरों में बैठकर सत्ता की मलाई खाएं।

उन्होंने पीआरडी जवानों की समस्याओं का मुद्दा उठाते हुए सरकार से पूछा कि दिन-रात मेहनत से कार्य करने वाले एवँ कोरोना काल के दौरान अपनी जान जोखिम में डालकर सेवा करने वाले इन नौजवानों के साथ ये अन्याय क्यों किया जा रहा है। आखिर सरकार इनकी मांगों को कब सुनेगी और कब इनकी सुध लेगी।

भावना पांडे ने कहा कि पीआरडी जवानों की ही तरह आज राज्य के कईं युवा अपनी मांगों को लेकर धरना दे रहे हैं व भूखे-प्यासे रहकर अनशन कर रहे हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री धामी से सवाल पूछते हुए कहा कि क्या  सरकार को इन बेरोजगार युवाओं पर जरा भी तरस नहीं आता है।

उन्होंने कहा कि भीषण सर्दी के इस मौसम में ये आंदोलनकारी युवा खुले आसमान के नीचे तंबुओं में सोने को विवश हैं, जिनमें कुछ युवतियां व महिलाएं भी शामिल हैं। आखिर इनकी सुरक्षा की जिम्मेदारी कौन लेगा और यदि इन बेरोजगार युवाओं को कुुुछ हो जाता है तो इसके लिए कौन उत्तरदायी होगा।

भावना पांडे ने कहा कि वे उत्तराखंड की आंदोलनकारी बेटी हैं और बाबा केदारनाथ ने ही उन्हें बेरोजगार युवाओं की मदद के लिए भेजा है। उन्होंने कहा कि जबतक सरकार आंदोलन कर रहे बेरोजगार युवाओं की मांगों को नहीं सुन लेती और इन युवाओं को इंसाफ नहीं मिल जाता, तब तक उनका ये समर्थन और ये लड़ाई यूँ ही जारी रहेगी।

जेसीपी अध्यक्ष भावना पांडे ने कहा कि  उन्होंने उत्तराखंड की महिलाओं और युवाओं के हितों को ध्यान में रखकर ही जनता कैबिनेट पार्टी का निर्माण किया है। उन्होंने कहा कि आने वाले विधानसभा चुनाव में ये बेरोजगार युवा व महिलाएं ही इस सरकार का घमंड तोड़ेंगे और भाजपा को सबक सिखाएंगे।

Leave a Reply