मौसम ने ली करवट, गिरा तापमान

News Room Uttrakhand

देहरादून। अप्रैल के महीना आधा बीत चुका है वहीं उत्तराखंड में फिर ठंड ने दस्तक दी है। मंगलवार को मौसम का रुख बदलने के बाद राज्यभर में तापमान गिर गया है। बुधवार की सुबह भी राज्य के अधिकतर इलाकों में बारिश जारी रही। वहीं उत्तरकाशी स्थित यमुनोत्री धाम की पहाड़ियों में बुधवार को तड़के बर्फबारी हुई। राजधानी देहरादून में भी तड़के बादल छाए रहे। जिसके बाद झमाझम बारिश शुरू हो गई।

उत्तरकाशी के यमुनोत्री क्षेत्र में झमाझम बारिश तो निचले इलाकों सहित पूरी यमुना घाटी में आसमान पर घने बादलों के बीच बूदांबांदी शुरू हुई। रुद्रप्रयाग जनपद में घने बादल छाए रहे। नई टिहरी और आसपास के क्षेत्रों में सुबह से बारिश होती रही। श्रीनगर और कोटद्वार में  सुबह से बूंदाबांदी जारी है। वहीं रुद्रपुर और हल्द्वानी में भी सुबह बारिश हुई। मौसम में आए इस बदलाव से पहाड़ी इलाकों के साथ ही मैदानी इलाकों में फिर से ठंड लौट आई है। लोग एक बार फिर गर्म कपड़े पहने दिखाई दे रहे हैं।

उत्तराखंड के ज्यादातर क्षेत्रों में अगले 24 घंटों के दौरान भारी ओलावृष्टि हो सकती है। साथ ही तेज रफ्तार से आंधी चलने के भी आसार हैं। इसको देखते हुए मौसम विभाग ने चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार बुधवार को भी प्रदेशभर में बादल छाये रह सकते हैं। अधिकांश क्षेत्रों में हल्की बारिश भी होगी।

वहीं, कुछ इलाकों में भारी मात्रा में ओले गिरने का भी अनुमान है। इसके अलावा कुछ मैदानी क्षेत्रों में तेज रफ्तार से आंधी चल सकती है। 60 से 70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली आंधी की अधिकतम गति 80 किमी प्रति घंटे तक भी पहुंच सकती है। मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि बुधवार को ओलावृष्टि और आंधी का अलर्ट है।

उसके बाद भी एक-दो दिन बादल और बारिश का दौर रहेगा। हालांकि इस दौरान कुछ विशेष इलाकों में ही बारिश होगी। मौसम विभाग के अलर्ट को देखते हुए राज्य आपदा परिचालन केंद्र ने सोमवार को ही सभी जिलाधिकारियों को अतिरिक्त सतर्कता बरतने के निर्देश जारी किए थे।

Leave a Reply