कश्मीरी छात्रों की सुरक्षा को लेकर पीडीपी प्रतिनिधिमंडल ने जताया सन्तोष

News Room Uttrakhand

देहरादून। जम्मू-कश्मीर से उत्तराखंड दौरे पर आए पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी के प्रतिनिधिमंडल ने यहां पढ़ रहे कश्मीरी छात्रों से मुलाकात की और उनकी सुरक्षा पर संतोष जताया। कहा कि सोशल मीडिया पर कश्मीरी छात्रों को लेकर अफवाह फैलाई जा रही है कि उनके साथ मारपीट हो रही है, जबकि कश्मीरी छात्र-छात्राओं से मुलाकात में यह बात निराधार साबित हुई। प्रतिनिधिमंडल ने उन कश्मीरी छात्रों की निंदा भी की जिन्होंने सोशल मीडिया पर देशविरोधी कृत्य किया है।

पीडीपी का प्रतिनिधिमंडल देहरादून स्थित बीजापुर गेस्ट हाउस पहुंचा। प्रतिनिधिमंडल में शामिल राज्यसभा सदस्य फैयाज अहमद मीर, पूर्व विधायक एजाज अहमद मीर, यूथ कोऑर्डिनेटर परवेज वफा व नेता वाहिद उर्रहमान परा कुछ देर रुकने के बाद प्रेमनगर होते हुए सेलाकुई तक गए। प्रतिनिधिमंडल ने प्रेमनगर के कुछ हास्टलों में रह रहे कश्मीरी छात्र-छात्राओं से मुलाकात की।

यहां सभी छात्र-छात्राओं ने कहा कि वह पूरी तरह से सुरक्षित हैं। पुलिस उनकी सुरक्षा को लेकर पूरे इंतजाम कर रही है। वहीं सेलाकुई में भी पढ़ाई कर रहे छात्र-छात्राओं ने भी यही बात दोहराई। सेलाकुई में प्रतिनिधिमंडल ने जिला पंचायत सदस्य राशिद पहलवान से भी मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि वे अमन व शांति के पैगाम के साथ यहां आए हैं। दल ने कश्मीरी छात्रों की बेहतर सुरक्षा को लेकर पुलिस व प्रशासन की सतर्कता पर संतोष जताया। पीडीपी के पूर्व विधायक एजाज अहमद मीर व यूथ कोऑर्डिनेटर परवेज ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के सोशल मीडिया में यह अफवाह फैलाई जा रही है कि देहरादून में पढ़ रहे छात्र-छात्राओं के साथ अभद्रता की जा रही है। जिस पर पार्टी की मुखिया व पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने एक प्रतिनिधिमंडल बनाकर देहरादून भेजा था।

उन्होंने कहा कि यहां पर ऐसा कुछ नहीं पाया गया। वहीं, यहां से कश्मीरी बच्चों के सकुशल घर भेजे जाने को सराहनीय बताया। प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि उत्तराखंड सरकार से भी कश्मीरी बच्चों की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर बात की है। इस मौके पर जिला पंचायत सदस्य राशिद पहलवान, जावेद अहमद, प्रेम सिंह, अबरार अहमद, मुस्तकीम, मोहम्मद लोकमान आदि मौजूद रहे। कश्मीर की पीडीपी पार्टी के प्रतिनिधिमंडल के रामपुर आने की सूचना पर पुलिस से लेकर खुफिया विभाग तक सूचनाएं एकत्रित करता रहा। एक बार बताया गया कि कार्यक्रम स्थगित हो गया है, लेकिन मंगलवार सायं प्रतिनिधिमंडल रामपुर पहुंचा और कश्मीरी बच्चों की सुरक्षा को लेकर स्थानीय लोगों से बात भी की।

प्रेमनगर समेत कई शिक्षण संस्थानों में पढ़ रहे कई कश्मीरी छात्र-छात्राओं ने अवकाश होने के चलते प्रतिनिधिमंडल के साथ कश्मीर लौटने की गुजारिश की। इस पर सरकार के स्तर पर वाहन का बंदोबस्त कर छात्रों को बीजापुर गेस्ट हाउस पहुंचाया गया, जिसके बाद छात्र-छात्राएं प्रतिनिधिमंडल के साथ कश्मीर रवाना हो गए। आइजी गढ़वाल अजय रौतेला के अनुसार जम्मू-कश्मीर से आए प्रतिनिधिमंडल ने देहरादून में पढ़ रहे कश्मीरी छात्र-छात्राओं से मुलाकात की। मुलाकात में छात्र-छात्राओं ने खुद को सुरक्षित बताया है।

Leave a Reply