कार्रवाई से बौखलाए माल्या ने मोदी सरकार पर किया हमला

International News Room

नई दिल्ली। सरकारी बैंकों का करीब 9,000 करोड़ रुपये का कर्ज लेकर देश छोड़कर फरार होने वाले शराब कारोबारी विजय माल्या ने अपने ऊपर हो रही सख्त कार्रवाई को लेकर केंद्र सरकार पर हमला किया है। भारत सरकार की कड़ी कार्रवाई का विरोध करते हुए उसने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद एक साक्षात्कार में मेरा नाम लेते हुए कहा है कि मेरे ऊपर बैंकों का 9,000 करोड़ रुपये कर्ज है, जबकि सरकार उनकी 14,000 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त कर चुकी है।

माल्या ने ट्वीट कर कहा, ‘जब देश के सबसे बड़े अधिकारी पूरी कर्ज वसूली की बात स्वीकार कर चुके हैं, फिर बीजेपी प्रवक्ता क्यों मेरे पीछे पड़े हुए हैं।’ उन्होंने कहा, ‘भारत में मेरी छवि पोस्टर बॉय की बना दी गई है। प्रधानमंत्री ने खुद कहा है कि मेरे ऊपर बैंकों का जितना बकाया था, उससे अधिक उनकी सरकार वसूल चुकी है। बड़ी बात यह है कि मैं सन् 1992 से ही ब्रिटेन निवासी हूं, जिसे नजरअंदाज कर दिया गया। मुझे भगोड़ा कहना बीजेपी को जंचता है।’

इससे पहले माल्या ने जेट एयरवेज के चेयरमैन पद से नरेश गोयल के इस्तीफा देने के बाद बीतेमंगलवार को सरकार पर तंज कसते हुए कहा था कि बैंक मेरा पैसा वापस ले लें और संकट में फंसे जेट एयरवेज को बचाएं। माल्या ने ट्वीट किया कि सरकारी बैंकों को मुझसे रकम ले लेनी चाहिए, ताकि वे जेट एयरवेज को मदद कर सकें। कर्जदाताओं की ओर से 1,500 करोड़ रुपये की मदद जेट एयरवेज को दिलाने के लिए नरेश गोयल ने अपनी पत्नी अनीता समेत सोमवार को कंपनी के पद छोड़ दिए थे। उल्लेखनीय है कि विजय माल्या को सरकार भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित कर चुकी है और लंदन से उसके प्रत्यर्पण की कार्रवाई चल रही है। जल्द ही माल्या को ब्रिटेन से भारत प्रत्यर्पित किया जा सकता है।

Leave a Reply