देवस्थानम बोर्ड भंग किये जाने पर जेसीपी अध्यक्ष भावना पांडे ने व्यक्त की अपनी प्रतिक्रिया, कही ये बात

Breaking News Uttrakhand

देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा मंगलवार को देवस्थानम बोर्ड को भंग किये जाने का ऐलान कर दिया गया। पिछले काफी समय से देवस्थानम बोर्ड को खत्म किये जाने की मांग उठाई जा रही थी, जिसको लेकर राज्य सरकार काफी दबाव में थी।

सरकार के इस निर्णय के बाद राजनीतिक दलों की अलग-अलग प्रतिक्रियाएं सामने आ रहीं हैं। वहीं सरकार के इस फैसले पर जनता कैबिनेट पार्टी की केंद्रीय अध्यक्ष भावना पांडे ने खुशी जाहिर की है। मीडिया को जारी अपने बयान में उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री धामी के इस ऐतिहासिक निर्णय से प्रदेशभर में खुशी की लहर है।

20211102_153923

उन्होंने कहा कि जनता कैबिनेट पार्टी पिछले काफी दिनों से सरकार से ये मांग करती आ रही थी कि देवस्थानम बोर्ड मामले पर सरकार तीर्थ पुरोहितों की बात भी सुनें। जेसीपी अध्यक्ष ने कहा कि वे जनता कैबिनेट पार्टी के उज्जवल भविष्य एवँ उत्तराखंड की खुशहाली के लिए कुछ दिनों पूर्व बाबा केदारनाथ से आशीर्वाद लेने गईं थी। इस दौरान उन्होंने वहां के तीर्थ पुरोहितों से भी मुलाकात की थी। भावना पांडे ने इस दौरान देवस्थानम बोर्ड को लेकर तीर्थ पुरोहितों से विशेष चर्चा की थी व उनकी बात सुनी थी।

तीर्थ पुरोहितों से वार्ता के बाद जेसीपी अध्यक्ष भावना पांडे ने सरकार को चेताते हुए कहा था कि सरकार अपने आश्वासन के अनुसार देवस्थानम बोर्ड पर विचार करे, अन्यथा जनता कैबिनेट पार्टी सड़कों पर उतरकर तीर्थ पुरोहितों के समर्थन में प्रदर्शन करेगी एवँ देवस्थानम बोर्ड का विरोध करेगी।

अब देवस्थानम बोर्ड के भंग होने एवँ तीर्थ पुरोहितों के हक़ में निर्णय आने पर जेसीपी अध्यक्ष भावना पांडे ने खुशी जाहिर करते हुए मुख्यमंत्री धामी का आभार जताया है। साथ ही उन्होंने कहा कि ये सत्य की जीत है। तीर्थ पुरोहितों की प्रार्थना एवँ उनकी मेहनत रंग लाई, आखिरकार भाजपा सरकार को बैकफुट पर आकर अपना फैसला बदलना पड़ा।

Leave a Reply