लता मंगेशकर के स्वास्थ्य को लेकर डॉक्टरों ने दिया बड़ा बयान, कही ये बात

Breaking News Entertainment

मुंबई। पिछले एक हफ्ते से लता मंगेशकर मुंबई के ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल में एडमिट हैं और इनका इलाज़ चल रहा है। डॉक्टर, जो लता जी का इलाज कर रहे हैं उनके मुताबिक, लता जी अभी भी आईसीयू में हैं, अभी भी लता जी को देखभाल की जरूरत है। यही वजह है कि उन्हें आईसीयू में डॉक्टर की निगरानी में रखा गया है। लता जी कोरोना के साथ-साथ निमोनिया से भी पीड़ित है, इसलिए लता जी डॉक्टर की निगरानी में कुछ और दिन रहेंगी। लता मंगेशकर को कितने दिन अस्पताल में रहेंगी, कह पाना अभी मुश्किल है।

डॉक्टर ने ये भी कहा कि उनके रिकवर होने के लिए लोगों से प्रार्थना करने की जरूरत है। तबीयत दोबारा खराब हुई है, लेकिन डॉक्टर की टीम लता जी की देखभाल कर रही है। किसी को मिलने की अनुमति नहीं है।

नवंबर 2019 में, मंगेशकर को सांस लेने में कठिनाई की शिकायत के बाद उसी अस्पताल में भर्ती कराया गया था और उन्हें निमोनिया हो गया था। 28 दिनों के बाद उसे छुट्टी दे दी गई।

मुंबई के ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल में लाता मंगेशकर को एडमिट हुए 8 दिन हो गए हैं। तीन दिन पहले लाता दीदी की तबीयत में तेज़ी से सुधार हो रहा था, लेकिन बीती रात तबियत एक बार फिर खराब होने की खबर से डॉक्टर और फैन दोनों परेशान हो गए।

एक तरफ जहां डॉक्टर लगातार आईसीयू में एडमिट लता मंगेशकर का इलाज कर रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ हॉस्पिटल के बाहर फैंस भी पहुंचने लगे हैं, ऐसे ही एक फैन यूपी के शाहजहांपुर से अपनी 9 साल की बेटी के साथ पहुंचे हैं।

इनका नाम हरजिंदर सिंह हैं जो लाता दीदी के जल्द स्वस्थ होने के लिए 16 दिन का उपवास रख रहे हैं। यह लता दीदी को माँ कहते हैं और बाकायदा उनके लिए मंत्र भी लिखा है। यह 7-8 मंदिर में लाता जी के लिए प्रार्थना करके आये हैं, इतना ही नहीं इनकी 9 साल की बेटी ने भी लता मंगेशकर के लिए मंदिरों में प्रार्थना की है।

लता मंगेशकर ने अपने करियर की शुरुआत 1942 में 13 साल की उम्र में की थी और सात दशक से अधिक के करियर में उन्होंने कई भारतीय भाषाओं में 30,000 से अधिक गाने गाए हैं। उनके कुछ सबसे पसंदीदा ट्रैक में “अजीब दास्तान है ये”, “प्यार किया तो डरना क्या”, “नीला असमन सो गया” और “तेरे लिए” हैं।

भारतीय सिनेमा के महानतम गायकों में से एक मंगेशकर को 2001 में भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न मिला। वह पद्म भूषण, पद्म विभूषण और दादा साहब फाल्के पुरस्कार और कई राष्ट्रीय पुरस्कारों सहित कई अन्य पुरस्कारों से सम्मानित हैं।

Leave a Reply