डिनर में दाल-चावल खाकर घटा सकते हैं वजन

National News Room

नई दिल्ली। दाल-चावल का नाम सुनकर ही कुछ लोगों को मोटापे का एहसास होने लगता है। दरअसल, लोगों के दिमाग में यह बात बैठ चुकी है कि चावल खाने से इंसान मोटा हो जाता है, लेकिन सच्चाई तो कुछ और ही है। दाल-चावल को जितना आप अनहेल्दी मानते हैं दरअसल, यह उससे कहीं ज़्यादा हेल्दी फूड है और वज़न घटाने में भी आपकी मदद कर सकता है। यकीन नहीं हो रहा तो खुद ही पढ़ लीजिए।

दाल में प्रोटीन और फाइबर भरपूर मात्रा में होता है जबकि चावल में कार्बोहाइड्रेट होता है। ऐसे में जब इसे साथ में खाया जाता है तो शरीर को कार्बोहाइड्रेट के साथ ही कई जरूरी विटामिन भी मिल जाते हैं। साथ ही इससे शरीर में एनर्जी भी बनी रहती है और पाचन तंत्र ठीक रहता है। रात के खाने में रोज़ाना या हफ्ते में 4 बार आप दाल-चावल खा सकते हैं। इससे वज़न बढ़ेगा नहीं, बल्कि कम होगा। दाल-चावल में ढेर सारा प्रोटीन, फाइबर और अन्य ज़रूरी पोषक तत्व होते हैं।

दाल-चावल खाने के फायदे– यदि आप वज़न कम करने के लिए डायटिंग नहीं करना चाहते तो दाल-चावल आपके लिए बेहतरीन विकल्प है। दाल चवाल में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और फाइबर भरपूर मात्रा में होता है, जो बिना किसी साइड इफेक्ट के वजन घटाने में मददगार है। चावल में मौजूद कार्बोहाइड्रेट जिससे शरीर की ऊर्जा की ज़रूरत को पूरा करता है।

शाकाहारी लोगों के लिए दाल-चावल प्रोटीन का बेहतरीन स्रोत है। यह न सिर्फ वजन घटाने में मदद करता है, अन्य स्वास्थ्य समस्याओं से भी आपको बचाता है। फाइबर पांचन तंत्र को दुरुस्त रखता है और दाल-चावल फाइबर का भी अच्छा स्रोत है। अतः इसे खाने से पेट से जुड़ी समस्याएं नहीं होती। यदि आपको पाचन से जुड़ी समस्या है तो दाल-चावल खाना आपके लिए बेस्ट है, क्योंकि यह आसानी से पच जाता है। इससे पाचन क्रिया भी ठीक रहती है।

ध्यान रखें यह बातें- कई मशहूर न्यूट्रिशनिस्ट का भी यही मानना है कि पारंपरिक भोजन दाल-चावल सेहत के लिए अच्छा है, लेकिन रात का खाना 8 बजे तक या सोने से 2 घंटे पहले ही कर लेना चाहिए जिससे भोजन आसानी से पच जाए। साथ ही चावल की मात्रा भी बहुत ज्यादा नहीं होनी चाहिए। इसके अलावा वज़न घटाने के लिए रोज़ना कम से कम 45 मिनट की एक्सरसाइज़ बहुत ज़रूरी है। दाल-चावल सेहत के लिए अच्छा है, लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि आप दोपहर और रात दोनों समय एक ही चीज़ खाएं। खाने के अन्य हेल्दी चीज़ें भी शामिल करनी चाहिए जैसे सलाद, फल और हरी सब्ज़ियां आदि।

Leave a Reply