National News Room

पंजाब सरकार का ऐलान, वैक्सीन नहीं ली तो होगी छुट्टी

चंडीगढ़। पंजाब सरकार ने कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाने वाले सरकारी कर्मचारियों को लेकर बड़ा फैसला लिया है। मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से जारी बयान के मुताबिक, पंजाब में जिन सरकारी कर्मचारियों ने कोरोना वैक्सीन (एक भी डोज) नहीं लगवाई उन्हें 15 सितंबर के बाद जबरन छुट्टी पर भेज दिया जाएगा। पंजाब सरकार के कर्मचारी मेडिकल के अलावा किसी अन्य कारण से कोविड वैक्सीन की पहली खुराक नहीं ले पाने में विफल रहने पर 15 सितंबर के बाद अनिवार्य रूप से छुट्टी पर भेज दिए जाएंगे। शुक्रवार को इस संबंध में पंजाब के मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से आदेश जारी किए गए हैं।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शुक्रवार को हुई उच्च स्तरीय कोविड समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि आंकड़ों के विश्लेषण से यह पता चला है कि टीके महामारी के खिलाफ प्रभावी हैं। सीएम अमरिंदर सिंह ने शुक्रवार को घोषणा की कि स्वास्थ्य कारणों को छोड़कर यदि 15 सितंबर तक राज्य सरकार के कर्मचारियों ने कोविड-19 रोधी टीके की पहली खुराक भी नहीं ली होगी, तो ऐसे कर्मचारियों को अनिवार्य रूप से छुट्टी पर भेज दिया जाएगा। कोविड समीक्षा बैठक में सीएम ने कहा कि विश्लेषण किए जा रहे आंकड़ों से टीके की प्रभावशीलता स्पष्ट है।

एक आधिकारिक वक्तव्य के मुताबिक, मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने यह कड़ा फैसला इसलिए लिया है ताकि लोगों को महामारी से बचाया जा सके। इसके अलावा यह सुनिश्चित किया जा सके कि टीका लगवा चुके लोग टीका नहीं लगवाने वाले लोगों की वजह से संक्रमित न हों। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकारी कर्मचारियों को टीका लगवाने के लिए लगातार प्रेरित किया जा रहा है। ऐसे कर्मचारी जो अभी भी टीका लगवाने से बच रहे हैं, उनको तब तक छ्ट्टी पर भेज दिया जाएगा, जब तक कि वे टीके की पहली खुराक नहीं लगवा लेते।

सीएम कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने टीचिंग और नॉन टीचिंग स्कूल स्टाफ़ को ड्यूटी पर लौटने की अनुमति दी गई है। कहा गया है कि जिन्होंने 4 सप्ताह से अधिक समय पहले टीके की कम से कम एक खुराक ली थी, ड्यूटी फिर से शुरू कर सकते हैं। हालांकि, साप्ताहिक RT-PCR नेगेटिव रिपोर्ट प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा। वहीं, इससे जुड़ी बीमारी वाले सभी लोगों को पूरी तरह से टीकाकरण के बाद ही अनुमति दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने टीके की पहली खुराक के लिए शिक्षकों, बच्चों के माता-पिता, विक्रेताओं, खाद्य/मिठाई की दुकानों और ढाबों के कर्मचारियों को प्राथमिकता देने का भी आदेश दिया।

कोविड प्रतिबंधों को 30 सितंबर तक के लिए बढ़ाया गया

पंजाब सीएमओ की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आगामी त्योहारों के मौसम को देखते हुए मौजूदा कोविड प्रतिबंधों को 30 सितंबर तक बढ़ाने का आदेश दिया है, जिसमें राजनीतिक, और मास्क पहनने के साथ-साथ सामाजिक दूरी को सख्ती से लागू करने सहित सभी सभाओं पर केल 300 लोग ही शामिल हो सकेंगे।

Advertisements

Leave a Reply