अमेरिका ने कहा- पाक पर कैसे करें भरोसा

National News Room

वाशिंगटन। ट्रंप प्रशासन ने कहा है कि पाकिस्तान और अमेरिका के बीच विश्वास और भरोसे का निर्माण करने के लिए इस्लामाबाद को ‘‘परिणाम देने’’ की जरूरत है। अमेरिका ने यह भी दोहराया कि परमाणु प्रसार उसकी शीर्ष सुरक्षा चिंताओं में से एक है।

विदेश मंत्रालय के उप प्रवक्ता रॉबर्ट पलाडिनो ने संवाददाता सम्मेलन में मंगलवार को कहा कि मंत्री (विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ) ने जोर देकर कहा है कि, ‘‘पाकिस्तान को काम करके दिखाने और परिणाम देने की आवश्यकता है ताकि दोनों देशों के बीच विश्वास और भरोसा कायम हो सके। हम एक समृद्ध पाकिस्तान देखना चाहते हैं जो क्षेत्रीय स्थिरता और सुरक्षा के लिए सकारात्मक योगदान दे।’’ 

पलाडिनो ने पोम्पिओ के एक हालिया बयान से जुड़े एक सवाल के जवाब में यह बात कही। पोम्पिओ ने पाकिस्तान के परमाणु प्रसार को अमेरिका के लिए तीसरी सबसे बड़ी राष्ट्रीय सुरक्षा चिंताओं के रूप में चिह्नित किया था। पलाडिनो ने कहा, ‘‘परमाणु प्रसार हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा रणनीति में व्यक्त सबसे बड़ी राष्ट्रीय सुरक्षा चिंताओं में से एक है। यह सूची में सबसे शीर्ष पर है।’’ उन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान के साथ समझौता वार्ता में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है।

Leave a Reply