अमेरिका के राष्ट्रपति पर लगे यौन उत्पीड़न के आरोप

वॉशिंगटन। न्यूयॉर्क में रहने वाली एक लेखिका और स्तंभकार ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है, हालांकि राष्ट्रपति ने आरोपों से इंकार करते हुए इन्हें फर्जी खबर बताया है। ई. जीन कैरोल ने नयी किताब ‘व्हाट डू वी नीड मेन फॉर?’ में लिखा है कि करीब दो दशक पहले 1990 के दशक में डोनाल्ड ट्रंप ने न्यूयॉर्क के बेर्गडोर्फ गुडमैन डिपार्टमेंट स्टोर में उनका यौन उत्पीड़न किया था। इस किताब के अंश सबसे पहले ‘न्यूयॉर्क’ पत्रिका की वेबसाइट पर प्रकाशित हुए थे।

हालांकि कैरोल, पुस्तक के प्रकाशित अंश में ट्रंप का नाम नहीं ले रही हैं, लेकिन हेडलाइन में उनका नाम जरूर है। हेडलाइन है ‘वाहियात आदमी डोनाल्ड ट्रंप ने 23 साल पहले बेर्गडोर्फ गुडमैन डिपार्टमेंट स्टोर में मेरा यौन उत्पीड़न किया। लेकिन मेरे जीवन के खराब मर्दों की सूची में वह अकेले नहीं हैं।’ पत्रिका में प्रकाशित किताब के अंश के मुताबिक, कैरोल तत्कालीन रियल एस्टेट मुगल ट्रंप से बेर्गडोर्फ गुडमैन डिपार्टमेंट स्टोर में मिलीं। दोनों ने एक-दूसरे को पहचाना और दोनों में दोस्ताना बातचीत हुई। लेकिन, फिर ट्रंप हिंसक हो गए और…. कैरोल ने इसके आगे ड्रेसिंग रूम में अपने साथ बलात्कार की घटना का वर्णन किया है।

लंबे समय तक ‘ऐले’ पत्रिका में में स्तंभकार सहीं 75 वर्षीय कैरोल सहित 16 महिलाओं ने पिछले कुछ दशकों में ट्रंप पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। ज्यादातर आरोप 2016 के राष्ट्रपति चुनाव से पहले लगाए गए थे। हालांकि ट्रंप ने इस आरोप से तुरंत इंकार किया है। एक बयान में ट्रंप ने कहा है कि वह कभी कैरोल से नहीं मिले हैं। ट्रंप ने कहा, ‘‘ई. जीन कैरोल की यह कहानी, जिसमें वह 23 साल पहले बेर्गडोर्फ गुडमैन डिपार्टमेंट स्टोर मुझसे मिलने का दावा कर रही हैं। मैं अपने जीवन में कभी इस व्यक्ति से नहीं मिला। वह अपनी किताब बेचने की कोशिश कर रही हैं… इससे उनकी मंशा का पता चलता है। इसे गल्प श्रेणी में बेचा जाना चाहिए।’’

लंबे-चौड़े बयान में ट्रंप ने कहा, ‘‘उन लोगों को शर्म आनी चाहिए जो अपनी पब्लिसिटी, किताब बेचने या राजनीतिक एजेंडे के तहत यौन शोषण की ऐसी झूठी कहनियां बनाते हैं…. जैसे कि जूली वेटनिक ने न्यायमूर्ति ब्रेट कावाना पर झूठा आरोप लगाया था।’’ उन्होंने सवाल किया, इस घटना का कोई वीडियो फुटेज या स्टोर में कोई गवाह है। उन्होंने कहा, ‘‘मिस कैरोल और न्यूयॉर्क पत्रिका: कोई तस्वीर नहीं? कोई सर्विलांस नहीं? कोई रिपोर्ट नहीं? कोई कर्मचारी भी आसपास नहीं? मैं बेर्गडोर्फ गुडमैन को धन्यवाद देना चाहूंगा कि उन्होंने घटना की कोई वीडियो फुटेज नहीं होने की पुष्टि की है, क्योंकि ऐसा कभी कुछ हुआ ही नहीं।’’ ट्रंप ने कहा, ‘‘यदि किसी के पास सूचना है कि डेमोक्रेटिक पार्टी मिस कैरोल या न्यूयॉर्क पत्रिका के साथ काम कर रही है तो कृपया हमें जल्दी-से-जल्दी सूचना दें। दुनिया को पता होना चहिए कि क्या चल रहा है।’’

Leave a Reply

Close