उत्तराखण्ड में पहाड़ों पर पड़ रही हाड़ कंपाने वाली ठंड

Breaking News News Room Uttrakhand

देहरादून। दिसंबर शुरू होने के साथ ही रात में तापमान गोता लगाने लगा है। खासकर, राज्य के पर्वतीय हिस्सों में हाड़ कंपाने वाली ठंड शुरू हो गई है। वहीं आने वाले दिनों में इसमें और इजाफा होगा। अगले कुछ दिनों में मैदानी क्षेत्रों में कोहरा तो पहाड़ में पाला गिरने से मौसम विभाग ने न्यूनतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट की संभावना जताई है।

हालांकि, मौसम शुष्क रहने से दिन में गुनगुनी धूप सहारा देती रहेगी। लेकिन, दिन में खिल रही धूप व रात में पारा एकाएक गिरने से अधिकतम व न्यूनतम तापमान में बड़ा अंतर आ रहा है। इन हालात में चिकित्सकों ने हर किसी को ठंड से बचने की सलाह दी है। खासकर, बच्चों और बुजुर्गों को बीमार होने से बचाने के लिए विशेष सतर्कता बरतने की जरूरत है।

मंगलवार को प्रदेश में सबसे कम तापमान चमोली जिले के रानीचौंरी में 0.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। खटीमा में पारा सबसे अधिक 26.1 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा। आगामी दिनों में रुद्रप्रयाग, पिथौरागढ़, उत्तरकाशी, पौड़ी और टिहरी के ऊंचाई वाले स्थानों में भी न्यूनतम तापमान एक से दो डिग्री तक पहुंचने की संभावना है।

मौसम शुष्क रहने से इन दिनों प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में 12 से 13 डिग्री सेल्सियस का अंतर दर्ज किया जा रहा है। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने अनुसार, अगले चार दिन भी प्रदेश में मौसम शुष्क रहने की संभावना है। इस दौरान पहाड़ों में पाला और मैदानी क्षेत्रों में अधिकांश स्थानों पर कोहरा पड़ने की संभावना है। इससे न्यूनतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस कमी आने की संभावना है।

Leave a Reply